कमलनाथ सरकार के मंत्री हर्ष यादव ने लिखी नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव को चिट्ठी, जाने आखिर क्या लिखा चिट्ठी में…

भोपाल। कमलनाथ सरकार के मंत्री हर्ष यादव आज सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बने हुए है। इसके पीछे की बजह के उनके द्वारा नेताप्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की लिखी गयी चिट्ठी आखिर ऐसा क्या लिख दिया चिट्ठी में … ये रही चिट्ठी

मेरे पड़ोस की विधानसभा क्षेत्र के पिछले 35 वर्षों से लगातार प्रतिनिधित्व कर रहे एवं प्रदेश के आदरणीय नेता प्रतिपक्ष महोदय जी आपको मैं प्रणाम करता हूं |

आपने विगत दिनों फेसबुक पर रहली की बालिका की घटना पर, मेरे द्वारा उस परिवार के घर पहुंच कर उनकी कुशल – क्षेम पूछने के उपरांत अापने जो टिप्पणियां मध्य प्रदेश सरकार की कार्यशैली एवं मुझ पर की है वह बहुत ही निंदनीय है | आप बयानबाजी करने एवं लेखन विद्या में निपुण है और मेरे से ज्यादा राजनीतिक अनुभव भी आपको है एवं आप सरकार में 15 वर्ष मंत्री भी रहे और पिछले लगातार 35 वर्षों से आप रहली क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे है| इतना विशाल राजनीतिक अनुभव होने के बावजूद भी ऐसी दुखद घटना आपके क्षेत्र में हुई जो कि प्रदेश स्तर तक पहुंची इसके लिए सर्वप्रथम उत्तरदायी आप हैं |

और ना ही किसी नेता ने और ना ही किसी पत्रकार ने और ना ही किसी और ने उस पीड़ित परिवार के पास पहुंचकर किसी भी प्रकार की राजनीति की है ! वह घटना ही इतनी पीड़ादायक थी कि कोई भी इंसान अपनी क्षमता अनुसार उस पीड़ित परिवार को राहत देने के लिए पहुंच गया ! लेकिन पता नहीं उस परिवार के प्रति वह पीड़ा आपको क्यों नहीं हुई |
मैंने तो केवल एक पड़ोसी होने के नाते अपना धर्म निभाया और माननीय मुख्यमंत्री जी ने जो मुझे निर्देश दिए मैंने उसका पालन किया और वहां जाकर उस परिवार को जो राहत मिलनी चाहिए उसका संज्ञान लिया|
आप उस क्षेत्र के मुखिया हैं और वह क्षेत्र आपका परिवार है और परिवार में यदि कोई व्यक्ति पीड़ित है तो हमें उसके पास जरूर पहुंचना चाहिए ! जो कि आप उसके पास नहीं पहुंचे |

आप बार- बार मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं जबकि मध्य प्रदेश में 15 वर्ष भाजपा की सरकार थी और आप भी 15 वर्ष सरकार में बड़े मंत्रालयों के मंत्री रहे आपके पास कृषि, सहकारिता ,सामाजिक न्याय और पंचायत एवं ग्रामीण विकास जैसे बड़े-बड़े मंत्रालय थे ! उसके बावजूद भी आपने रहली विधानसभा क्षेत्र के लिए क्या किया ?? जनता त्राहि-त्राहि चिल्लाती रही लेकिन आपने कभी उनकी तरफ देखा तक नहीं | आपने भी पूर्व मुख्यमंत्री की तरह घोषणाएं पर घोषणाएं की है | जिनमें से आपने एक घोषणा की थी कि रहली क्षेत्र में शुगर मिल लगाई जाएगी , आपने तो उस शुगर मिल का भूमि पूजन तक करा दिया था लेकिन आज तक