विश्व एड्स दिवस 2019:क्या एड्स से जुड़ी ये 5 जरूरी बातें जानते हैं आप, पढ़ें क्या है भ्रम और क्या है हकीकत

दुनियाभर में हर साल एचआईवी संक्रमण के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए 1 दिसंबर को वर्ल्ड एड्स डे (World AIDS Day) मनाया जाता है। एड्स को अंग्रेजी भाषा में Acquired Immune Deficiency Syndrome के नाम से पहचाना जाता है। यह रोग HIV (Human immunodeficiency virus) की वजह से होता है। इस रोग की वजह से व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) कमजोर हो जाती है और मनुष्य बीमारियों से लड़ने की ताकत खो देता है। हर साल की तरह इस बार भी वर्ल्ड एड्स डे 2019 पर एक अलग थीम रखी गई है, जिसका नाम है- कम्युनिटीज मेक द डिफरेंस। एड्स को लेकर लोगों में आज भी कई तरह के भ्रम बने हुए हैं तो आइए आज इस खास मौके पर जानते हैं एड्स से जुड़े क्या है फेमस भ्रम और उससे जुड़ी हकीकत।

1- भ्रम- Kiss करने से फैलता है एड्स
सच- 
HIV पॉजिटिव रोगियों के सलाइवा में बहुत कम मात्रा में यह वायरस पाया जाता है। यही वजह है कि किस करने से सामने वाले व्यक्ति को कभी एड्स नहीं फैलता।

2-भ्रम- मच्छर के काटने से HIV फैलता है
सच- 
HIV/AIDS पीड़ित व्यक्ति को काटा हुआ मच्छर अगर किसी दूसरे मनुष्य को काट लेता है तो उससे भी एड्स का वायरस नहीं फैलता। हालांकि मच्छरों के काटने से कई अन्य तरह की बीमारियां होने का खतरा जरूर बना रह सकता है। 

3-भ्रम- टैटू या पियर्सिंग से HIV/AIDS होता है
सच- 
जो लोग  एड्स को लेकर यह तथ्य देते हैं वो काफी तक तक उस अवस्था में सही हो सकते हैं अगर टैटू या पियर्सिंग आर्टिस्ट HIV पॉजिटिव व्यक्ति पर इस्तेमाल की गई सुई को बिना साफ किए उसका इस्तेमाल आपके शरीर पर भी कर दें। हालांकि इससे बचने के लिए ज्यादातर लोग हर व्यक्ति के लिए पियर्सिंग करते समय नई सुई का इस्‍तेमाल करते हैं।

4-भ्रम-स्विमिंग पूल में नहाने से HIV/AIDS फैलता है
सच- 
एचआईवी पीड़ित के स्विमिंग पूल में नहाने, उसके कपड़े धोने और उसका जूठा पानी पीने से किसी दूसरे को यह वायरस नहीं फैलता। 

5-एड्स से जुड़े ये हैं कुछ और फेमस भ्रम- 
बहुत सारे लोग समझते हैं कि एड्स पीड़ित व्यक्ति के साथ खाने, पीने, उठने, बैठने से हो जाता है जो कि गलत है। ये समाज में एड्स के बारे में फैली हुई भ्रांतियां हैं। सच तो यह है कि रोजमर्रा के सामाजिक संपर्कों से एच.आई.वी. नहीं फैलता जैसे किः-
 
(1) पीड़ित के साथ खाने-पीने से
(2) बर्तनों कि साझीदारी से 
(3) हाथ मिलाने या गले मिलने से 
(4) एक ही टॉयलेट का प्रयोग करने से
(5) खांसी या छींक से 
(6) पशुओं के काटने से 

नोट- इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क अवश्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *