नगरीय निकाय चुनाव: बीजेपी ने काटे पार्षदों के टिकट, बगावत के संकेत

नगरीय निकाय चुनाव (Urban civic elections) को लेकर बीजेपी (BJP) ने बाजी मारते हुए कांग्रेस (Congress) से पहले कांकेर (Kanker) नगर पालिका सहित पंखाजूर नगर पंचायत में उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. बीजेपी (BJP) की सूची जारी होते ही टिकट पाने वालों के चेहरों में खुशी की लहर है तो वहीं टिकट पाने से वंचित हुए पार्षदों ने बगावत का बिगुल फूंक निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान भी कर दिया. पार्टी द्वारा नगर पालिका के चार पार्षदों का टिकट काटे जाने के बाद नाराज बरदेभाटा पार्षद ने अपने समर्थकों के साथ बीजेपी कार्यलय का घेराव कर टिकट देने की मांग की है.

टिकट काटे जाने से नाराज पार्षद  ने कहा कि उन्होंने बीते पांच वर्ष में अपने वार्ड में बेहतर कार्य किया है और आज बिना कारण बताये टिकट नहीं दिया गया है, जिससे उनमें और समर्थकों में नाराजगी है. जारी सूची में इस बार बरदेभाटा वार्ड से जिसे बीजेपी (BJP) से प्रत्याशी बनाया गया वह वार्ड में नहीं रहता. फिर भी उसे टिकट दिया गया जिसका उन्हें खेद है. अगर पार्टी अपना फैसला बदलकर उन्हें टिकट नहीं देती है तो वो निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे.

बीजेपी के अपने तर्क
बीजेपी पार्षद के टिकट की मांग को लेकर किये जा रहे प्रदर्शन पर पार्टी के जिलाध्यक्ष का अपना तर्क है. बीजेपी जिलाध्यक्ष हलधर साहू का कहना है कि पार्टी में कोई बगावत नहीं है. उक्त वार्ड से रायशुमारी कर प्रत्याशी बनाया गया. यदि किसी पार्षद को किसी बात ऐतराज है तो पार्टी फोरम में अपनी बात रख सकता है. बहरहाल अब तो आने वाला वक्त ही तय करेगा कि मौजूदा पार्षदों का टिकट काटना बीजेपी के लिए कितना फायदेमंद होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *