MP से बड़ी खबर : मप्र में घुसे दो कथित आतंकी.पचमढ़ी से सेना की रायफल और 20कारतूस लेकर भागे, प्रदेश में अर्लट जारी…

भोपाल। पचमढ़ी स्थित सेना के एजुकेशन कोर से बीती देर रात दो संदिग्ध आतंकी दो इंसास रायफल और बीस कारतूस लेकर फरार हो गए हैं। जानकारी मिलते ही पुलिस में सनसनी फैल गई है। उनका जबलपुर की तरफ ट्रेन से भागने की संभावना है। एटीएस, एसटीएफ से लेकर जीआरपी को अलर्ट कर दिया गया है। ट्रेनों में सघन तलाशी जारी है। फिलहाल संदिग्धों के बारे में कोई सुराग नहीं मिले हैं।
सूत्रों के मुताबिक रात्रि 12.15 बजे दो व्यक्तियों ने पिपरिया से पचमढ़ी जाने के लिए एक टवेरा किराए पर ली। वे रात्रि डेढ़ बजे के आसपास पचमढ़ी पहुंचे। उन्होंने कार चालक को बताया कि कुछ जरूरी काम से पचमढ़ी जाकर वापस आना है। इसके बाद वे पचमढ़ी पहुंचे। वहां कार को एक स्थान पर खड़ी कराकर वे पचमढ़ी स्थित आर्मी के एजुकेशन कोर पहुंचे। वहां शहीद स्मारक गेट पर ड्यूटी पर तैनात संतरी से पूछा कि यहां इंचार्ज कौन है। संतरी कुछ बता नहीं पाया तो उससे कहा पता करके आओ, हमें उनसे जरूरी काम है। जब संतरी सेंटर के अंदर जाने लगा तो उन्होंने उससे कहा कि रायफल यहीं रख जाओ। संतरी उनकी बात में आकर रायफल रखकर चला गया। जब वापस आया तो दोनों गायब थे, साथ ही एसएलआर की दो इंसास रायफल और बीस कारतूस भी गायब थे। संतरी ने घटना की जानकारी सेंटर में उपस्थित अधिकारियों को दी। इधर, दो संदिग्ध व्यक्ति उसी कार से वापस पिपरिया के लिए रवाना हुए। पौने चार बजे के आसपास वे पिपरिया पहुंचे। इस दौरान जबलपुर की ओर जाने वाली श्रीधाम एक्सप्रेस आने वाली थी। घटना के बारे में जब पुलिस को जानकारी मिली तो तत्काल क्षेत्र की घेराबंदी की। इस दौरान कार चालक अन्य सवारी को लेकर पुन: पचमढ़ी पहुंचा। पुलिस ने पिपरिया टैक्सी स्टैंड के ड्राइवरों से पूछताछ के बाद उक्त कार चालक को पचमढ़ी में तलाश लिया। उसने पूछताछ में पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। उसने पुलिस को बताया कि जब दोनों व्यक्ति पचमढ़ी से पिपरिया आ रहे थे तो उनके पास बैग में कुछ भारी सामान नजर आया था, लेकिन उसने इस बारे में पूछताछ नहीं की। वे पंजाबी भाषा में बात कर रहे थे। इधर, पुलिस को शक है कि दोनों आरोपी श्रीधाम ट्रेन से जबलपुर की तरफ भागे हैं। पुलिस अधिकारियों ने जीआरपी अफसरों को देर रात सभी ट्रेनों में तलाशी के निर्देश दिए। इसके बाद जबलपुर से लेकर इटारसी, मुंबई, हैदराबाद, दिल्ली की तरफ जाने वाली सभी ट्रेनों में सघन तलाशी अभियान जारी है। इधर एटीएस के साथ ही एसटीएफ को भी अलर्ट कर दिया है। दोपहर तक उक्त संदिग्धों का कहीं सुराग नहीं मिला था। दोपहर तक इस मामले में आर्मी की तरफ से पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई है। सेना के अधिकारियों का पुलिस अफसरों से कहना था कि फिलहाल अपने स्तर पर जांच-पड़ताल की जा रही है। सूचना पर एसडीओपी और एएसपी को तत्काल पचमढ़ी भेज दिया गया है। दोपहर में एसपी होशंगाबाद और डीआईजी भी पचमढ़ी पहुंच रहे हैं।
रात्रि में गोली मारने के आदेश
संतरी ड्यूटी पर तैनात जवानों को सेना के स्पष्ट निर्देश हैं कि रात्रि में सैन्य ठिकानों के आसपास दिखने वाले किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को गोली मार दी जाए। लेकिन संतरी ने ऐसा नहीं किया, बल्कि संदिग्धों के कहने पर अपना हथियार मौके पर रखकर सेंटर के अंदर चला गया और आरोपी हथियार लेकर रफूचक्कर हो गए।

देर रात हुई घटना की जानकारी मिलने के बाद ट्रेनों में तलाशी जारी है। आरोपियों को पचमढ़ी ले जाकर वापस पिपरिया छोडऩे वाले कार चालक से पूछताछ की गई है। अभी आर्मी की तरफ से अपराध दर्ज नहीं कराया गया है।
आशुतोष राय, एडीजी, होशंगाबाद जोन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *